Sunday, April 21, 2024
No menu items!
Homeआपदालंबे अरसे से बाढ़ का कहर झेल रहा हरिद्वार का लक्सर! लोगों...

लंबे अरसे से बाढ़ का कहर झेल रहा हरिद्वार का लक्सर! लोगों को मदद का इंतजार

उत्तराखंड का लक्सर वह क्षेत्र है जो एक लंबे अरसे से बाढ़ का कहर झेलता आ रहा है। अब तो यहां के लोगों को भी इसकी आदत हो गई है। बरसात के दिनों मे लोगो को हर बार भारी नुकसान झेलना पड़ता है। मुआवजे के नाम पर हुए नुकसान का उन्हें जो मुआवजा मिलता है। उससे आधे नुकसान की भी भरपाई नहीं हो पाती है।

एक बार फिर पिछले एक सप्ताह से अधिक समय से बाढ़ की विभीषिका झेल रहे लक्सर क्षेत्र को अभी तक बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र घोषित नहीं किया गया है। जिससे क्षेत्र के लोगों में भारी रोष व्याप्त है। क्षेत्र के लोगों के लिए बाढ़ का कहर झेलने के लिए यह कोई पहला अवसर नहीं है। वे पिछले एक लंबे समय से बरसात के दिनों में बाढ़ का कहर झेलते चले आ रहे है। लेकिन शासन व प्रशासन के नुमाइंदे शायद अभी तक यह सब नहीं देख नही पाये है। बाढ़ के हालात पैदा होने पर बड़े-बड़े दावे जरूर किए जाते हैं। लेकिन बरसात का मौसम समाप्त होते ही सभी दावे हवा हवाई हो जाते हैं। लक्सर तहसील क्षेत्र के लोग पिछले एक लंबे अरसे से बाढ़ का कहर खेलते चले आ रहे हैं। गंगा व सोलानी नदी पर तटबंध के निर्माण के बाद क्षेत्र के लोगों को बाढ़ से कुछ राहत मिली थी। लेकिन आधे-अधूरे बने तटबंध ऊपर से उनकी मरम्मत न होने तथा क्षेत्र में लगातार अवैध खनन होने के चलते क्षेत्र के लोग आज भी बाढ़ का कहर झेलने को विवश हैं। बरसात के दिनों मे लोगो को हर बार भारी नुकसान झेलना पड़ता है। मुआवजे के नाम पर हुए नुकसान का उन्हें जो मुआवजा मिलता है। उससे आधे नुकसान की भी भरपाई नहीं हो पाती है। वैसे तो क्षेत्र के लोग उत्तराखंड राज्य के गठन से पूर्व से ही बाढ़ का कहर झेलते चले आ रहे हैं। लेकिन उत्तराखंड गठन के बाद भी क्षेत्र के लोगों को पूरी तरह राहत नहीं मिल पायी है। जिससे क्षेत्र के लोगों में शासन व प्रशासन के नुमाइंदों के खिलाफ भारी रोष व्याप्त है। खानपुर विधायक उमेश कुमार का कहना है कि वे क्षेत्र को बाढ़ ग्रस्त घोषित किए जाने की मांग पहले से ही करते चले आ रहे हैं। इसके लिए मुख्यमंत्री को पत्र भी भेजा गया है। क्षेत्र का बाढ़ से बुरा हाल है। लोगों का भारी नुकसान झेलना पड रहा है। वे लगातार राहत व बचाव कार्य में जुटे हैं। मुख्यमंत्री से मिलकर फिर से क्षेत्र को बाढ़ ग्रस्त घोषित किए जाने की मांग करेंगे। लक्सर विधायक मोहम्मद शहजाद का कहना है कि लक्सर व खानपुर क्षेत्र में बाढ़ से लोगों का सब कुछ तबाह हो गया है। जिसका आकलन कराया जाना मुश्किल है। कुछ लोगों के पास एक वक्त भोजन की व्यवस्था भी नहीं बची है। उन्होंने मुख्यमंत्री से लक्सर क्षेत्र को बाढ़ ग्रस्त घोषित किए जाने की मांग की थी। लेकिन अभी तक क्षेत्र को अभी तक बाढ़ ग्रस्त घोषित नहीं किया गया है। मुख्यमंत्री से मिलकर फिर से मांग करेंगे।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें