Wednesday, February 21, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड: केदारनाथ धाम की यात्रा होगी और आसान! श्रद्धालुओं के स्वास्थ्य का...

उत्तराखंड: केदारनाथ धाम की यात्रा होगी और आसान! श्रद्धालुओं के स्वास्थ्य का रखा जाएगा पूरा ध्यान

हर साल हजारों लाखों लोग केदारनाथ धाम में बाबा केदार के दर्शन करने आते हैं। इन श्रद्धालुओं को कई स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अब ऐसे में इन्हीं समस्याओं को खत्म करने के लिए सरकार ने नई योजना बना ली है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत केदारघाटी में चिकित्सालय निर्माण की स्वीकृति मिल गई है। केदारनाथ धाम में जल्द ही 25 करोड़ की लागत से 50 बेड का आधुनिक सुविधाओं से युक्त उप जिला चिकित्सालय का निर्माण होगा। चिकित्सालय के लिए गुप्तकाशी से चार किमी आगे गौरीकुंड हाईवे पर नाला में स्थित 2.24 हेक्टेयर भूमि का चयन किया गया है। भूमि हस्तांतरण व अन्य औपचारिकताओं के बाद जल्द ही अस्पताल का निर्माण शुरू हो जाएगा। इससे देश विदेश से आने वाले तीर्थयात्रियों के साथ ही स्थानीय लोगों को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिलेगा। वर्ष 2013 की केदारनाथ आपदा के समय केदारघाटी में स्वास्थ्य सेवाओं की किल्लत झेलनी पड़ी थी, उस समय ही गुप्तकाशी के पास विद्यापीठ में आधुनिक सुविधाओं से युक्त उप जिला चिकित्सालय निर्माण की घोषणा तत्कालीन मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने की थी। इसके बाद हरीश रावत ने भी अपने मुख्यमंत्री काल में गुप्तकाशी में चिकित्सालय निर्माण की घोषणा की, पर मानकों के अनुरूप भूमि का चयन न हो पाने से कार्रवाई आगे नहीं बढ़ पाई। करीब 10 वर्षों के इंतजार के बाद अब गुप्तकाशी से चार किमी आगे गौरीकुंड हाईवे पर ग्राम पंचायत की भूमि का चयन किया गया है। चिकित्सालय के निर्माण के लिए प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग, लोक निर्माण विभाग, पेयजल निर्माण इकाई व राजस्व विभाग की संयुक्त टीम ने स्थलीय निरीक्षण किया था, जिसके बाद भूमि चयन को अंतिम रूप दिया गया। चिकित्सालय निर्माण से पूरी केदारघाटी के लोगों को इसका लाभ मिलेगा। वर्तमान में स्थानीय लोगों को जिला चिकित्सालय या फिर बेस चिकित्सालय श्रीनगर में ही विशेषज्ञ डॉक्टरों के पास उपचार के लिए आना होता है। वहीं केदारनाथ यात्रा के दौरान होने वाली दुर्घटनों में घायलों को भी समय पर उपचार मिल सकेगा।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें