Thursday, February 22, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडनैनीतालः ‘खुशी का एक दिन’ कार्यक्रम! सुयालगढ़ में जुटी महिलाएं, रंगारंग कार्यक्रमों...

नैनीतालः ‘खुशी का एक दिन’ कार्यक्रम! सुयालगढ़ में जुटी महिलाएं, रंगारंग कार्यक्रमों ने मिटाई थकान

नैनीताल। रविवार मिटोरस ट्रस्ट उद्यम संस्था द्वारा नैनीताल जिले के सुयालगढ़ में ‘खुशी का एक दिन’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। यह कार्यक्रम कुमाऊं के 5 जिलों के 25 अलग-अलग क्षेत्रों में 7,500 से अधिक ग्रामीण महिलाओं के मध्य सम्पन्न होंगे। कॉर्बेट के क्यारी गांव से लेकर बागेश्वर के बधियाकोट, कर्मी और पिथौरागढ़ के धारचूला तक यह मेगा ऑपरेशन 5 महीनों में 25 कार्यक्रमों में 7500 से अधिक महिलाओं को कवर करेगा। जिसका उद्देश्य पहाड़ की महिलाओं को उद्यमिता के क्षेत्र में आगे बढ़ने का है। इस कार्यक्रम में महिलाओं के लिए भोजन व्यवस्था, पिक्चर देखने के लिए मूवी थिएटर, खेलने के लिए अलग अलग खेलों की व्यवस्था, सांस्कृतिक और रंगारंग कार्यक्रम, उद्यम स्टॉल, ब्यूटी स्टॉल, सेल्स स्टॉल, मेडिकल स्टॉल आदि की व्यवस्था की गई।

इस कार्यक्रम में सुयालगढ़ से सुयालबाडी के  मध्य स्थित कई गावों की 350 से अधिक महिलाओं ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम में 60 से अधिक सास बहुओं को साड़ियां उपहार स्वरूप दी गई। साथ ही लकी ड्रॉ के रूप में डिनर सेट उपहार स्वरूप भेंट किया गया। कार्यक्रम में मुख्य आकर्षण का केंद्र रहे मोहन दा (अमित भट्ट)। मोहन दा और उनकी टीम ने अपनी पहाड़ी कॉमेडी से महिलाओं का दिल जीता और खूब वाह वाही लूटी। कार्यक्रम में अरुण तिवारी द्वारा भी संगीत की बेहतरीन प्रस्तुति की गई और एचपीएस सुयालगढ़ के छात्रों और शिक्षकों द्वारा भी विभिन्न नाटक, झोड़े और नृत्य का अद्भुत प्रदर्शन किया गया। इन सभी को देख कार्यक्रम में आई महिलाओं ने भी अपनी अपनी प्रस्तुति दी।

इस दौरान कार्यक्रम में उद्यम संस्था के नैनीताल जिले के उद्यमी मैनेजर ललित जोशी और कलेक्शन मैनेजर खीम सिंह बिष्ट द्वारा महिलाओं से संवाद स्थापित कर उद्यमिता के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया गया और उन्हें विभिन्न क्षेत्रों के स्वरोजगार की जानकारी दी गई जो वह अपने क्षेत्र में रह कर कर सकती हैं। इस कार्यक्रम के तहत अक्टूबर 2023 और फरवरी 2024 के बीच कुमाऊं में 25 स्थानों पर 200 गांवों को कवर किया जायेगा। इसमें उद्यमिता से संबंधित कार्यक्रम भी होंगे जो महिलाओं को अपना खुद का कारोबार करने का अवसर प्रदान करेंगे। कार्यक्रम का उद्घाटन बुजुर्ग महिलाओं द्वारा किया गया।

कार्यक्रम में एचपीएस सुयालगढ स्कूल सोसाइटी के  अध्यक्ष बृजमोहन जोशी, प्राचार्य कमलेश पांडे और जयेश महतो द्वारा महत्वपूर्ण योगदान दिया गया। एचपीएस सुयालगढ़ की ओर से शिक्षक नेहा जोशी, संगीता जीना, भगवती आर्या, भावना उप्रेती, मनीषा नेगी, इला बिष्ट, रीता सुयाल, कुंदन लोहिया, दिनेश चंद्रा आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम में उद्यम संस्था और खुशी का एक दिन की ओर से संस्था के संस्थापक पंकज वाधवा, हेड अंजली नबियाल, कार्यक्रम प्रबंधक शोभा लोहनी, राहुल जोशी, ललित जोशी, पूजा, नवीन कनवाल, अरुण तिवारी, गोविंद, धीरज, आरती कनवाल, रजनी, कंचन आदि मौजूद रहे।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें