Wednesday, February 21, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड की पहली महिला ब्यूरोक्रेसी बॉस बनीं आईएएस राधा रतूड़ी! आदेश जारी

उत्तराखंड की पहली महिला ब्यूरोक्रेसी बॉस बनीं आईएएस राधा रतूड़ी! आदेश जारी

उत्तराखंड के मुख्य सचिव एसएस संधू आज रिटायर हो रहे हैं। इनके बाद आईएएस राधा रतूड़ी मुख्य सचिव की कमान संभालेंगी। जिसके लिए आदेश जारी हो गये हैं।

आखिरकार उत्तराखंड में नए मुख्य सचिव के नाम पर सस्पेंस खत्म हो गया है। आईएएस राधा रतूड़ी उत्तराखंड की अगली मुख्य सचिव होंगी। राधा रतूड़ी को मुख्य सचिव बनाये जाने को लेकर कार्मिक विभाग ने आदेश जारी कर दिया है। आईएएस राधा रतूड़ी आज उत्तराखंड के मुख्य सचिव का पदभार संभालेंगी।
बता दें कि उत्तराखंड के वर्तमान मुख्य सचिव एसएस संधू आज रिटायर हो रहे हैं। उनके बाद उत्तराखंड की कमान आईएएस राधा रतूड़ी को दी गई है। इस समय देश में केवल तीन महिला मुख्य सचिव हैं। आईएएस राधा रतूड़ी इस कड़ी में चौथी महिला होंगी जो ब्यूरोक्रेसी की बॉस बनेंगी। वहीं तेलंगाना में अबतक सबसे अधिक महिला मुख्य सचिव हुई हैं। राधा रतूड़ी 1988 बैच की आईएएस अधिकारी हैं। वो फिलहाल शासन में अपर मुख्य सचिव की जिम्मेदारी देख रही हैं। राधा रतूड़ी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की करीबी अफसरों में गिनी जाती हैं। राधा रतूड़ी के पास अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी भी है। राधा रतूड़ी उत्तराखंड कई बड़ी जिम्मेदारियां संभल चुकी हैं। वो कई जिलों की जिलाधिकारी रही। महिला एवं सशक्तिकरण विभाग में राधा रतूड़ी ने लंबे समय तक काम किया। उत्तराखंड के अलावा राधा रतूड़ी चार राज्यों में सेवाएं दे चुकी हैं। राधा रतूड़ी इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस में चयनित होने के बाद उज्जैन पहुंचीं यहां उन्होंने प्रशासन की ट्रेनिंग ली। मध्य प्रदेश में काम करने के बाद उन्होंने कैडर चेंज किया। इसके बाद उन्होंने उत्तर प्रदेश के बरेली में पोस्टिंग ली। इसी दौरान आईपीएस अनिल रतूड़ी के नेशनल पुलिस अकादमी हैदराबाद में जाने पर राधा रतूड़ी ने स्टडी लीव ली। वो प्रतिनियुक्ति पर आंध्र प्रदेश में भी पोस्टिंग ली। साल 1999 में वह वापस उत्तर प्रदेश आई। इसके बाद 9 नवंबर 2000 को उत्तराखंड अलग राज्य के रूप में स्थापित हुआ। तब से वो उत्तराखंड में काम कर रही हैं।

 

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें