Wednesday, February 21, 2024
No menu items!
Homeअपराधउत्तराखण्ड: पहाड़ों में जमकर हो रही नशा तस्करी! अल्मोड़ा में लाखों की...

उत्तराखण्ड: पहाड़ों में जमकर हो रही नशा तस्करी! अल्मोड़ा में लाखों की स्मैक के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

उत्तराखंड में नशा तस्करी का जाल इस कदर फैल चुका है कि उस पर लगाम लगाना पुलिस के लिए भी चुनौती बन गया है। आए दिन नशा तस्करी के मामले में सामने आ रहे हैं। ताजा मामला अल्मोड़ा से सामने आया है। जहां पुलिस ने चेकिंग अभियान के दौरान दो युवकों को स्मैक के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपी स्कूटी से स्मैक की तस्करी कर रहे थे। ऐसे में उनकी स्कूटी को सीज कर दिया गया है। जबकि आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

दरअसल अल्मोड़ा हल्द्वानी हाईवे पर लोधिया और क्वारब के बीच पुलिस चेकिंग अभियान चला रही थी। चेकिंग के दौरान हल्द्वानी से अल्मोड़ा की आ रहे एक स्कूटी संख्या UK 01 A 8001 को रोका गया, लेकिन पुलिस को देखते ही स्कूटी सवार दोनों युवकों के चेहरे की हवा उड़ गई। जिस पर पुलिस का शक गहरा गया और तलाशी ली। तलाशी लेने पर आरोपियों के पास 14.29 ग्राम स्मैक बरामद हुई. ऐसे में पुलिस की टीम ने तत्काल दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की मानें तो एक आरोपी का नाम पीयूष नयाल पुत्र महिपाल सिंह है। जो न्यू इंद्रा कॉलोनी खत्याड़ी का निवासी है. उसके पास से 6.85 ग्राम स्मैक बरामद हुई है। जबकि दूसरे आरोपी का नाम भूपेंद्र सिंह पुत्र राजेंद्र सिंह है। जो हवालबाग के पाखुड़ा गांव का रहने वाला है। जो इस वक्त बेस अस्पताल अल्मोड़ा के पास रह रहा था. उसके कब्जे से 7.44 ग्राम स्मैक मिली है। पुलिस उपाधीक्षक विमल प्रसाद ने बताया कि स्मैक तस्करी के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही स्मैक में इस्तेमाल स्कूटी को भी सीज कर लिया गया है। दोनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर सलाखों के पीछे भेज दिया है. पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वो स्मैक हल्द्वानी से एक व्यक्ति से खरीद कर लेकर लाए थे। जिसे वो ऊंचे दामों में पहाड़ी इलाकों में बेचने जा रहे थे। बरामद स्मैक की कीमत 1 लाख 24 हजार रुपए आंकी गई है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें