Thursday, April 25, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडडॉ.एपीजे अब्दुल कलाम राज्य विज्ञान,गणित एवं पर्यावरण महोत्सव में विज्ञान प्रदर्शनी और...

डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम राज्य विज्ञान,गणित एवं पर्यावरण महोत्सव में विज्ञान प्रदर्शनी और विज्ञान मेला में प्रतिभागी बाल वैज्ञानिकों का किया मूल्यांकन

नैनीताल ::- डॉ. ए पी जे अब्दुल कलाम राज्य विज्ञान,गणित एवं पर्यावरण महोत्सव 2022 के दूसरे दिन खालसा नेशनल बालिका इंटर कॉलेज हल्द्वानी में आयोजन के प्रथम सत्र में निर्णायकों द्वारा विज्ञान प्रदर्शनी और विज्ञान मेला में प्रतिभागी बाल वैज्ञानिकों का मूल्यांकन किया गया। राज्य के विभिन्न जनपदों से आये प्रतिभागियों ने विज्ञान प्रदर्शनी के मुख्य विषय प्रौद्योगिकी और खिलौने के अंतर्गत विभिन्न उप विषयों यथा सूचना और प्रौद्योगिकी में उन्नति, पर्यावरण अनुकूल सामग्री, स्वास्थ्य और स्वच्छता पर्यावरण संबंधी चिंताएं,परिवहन और नवाचार,वर्तमान नवाचार के साथ ऐतिहासिक विकास तथा हमारे लिए गणित पर आधारित सुंदर मॉडल प्रस्तुत किए ,साथ ही निर्णायकों द्वारा विज्ञान मेला के मुख्य विषय प्रौद्योगिकी और खिलौने के अंतर्गत अनुभवी एवं प्रबुद्ध शिक्षकों के मार्गदर्शन में तैयार किये गए व्यक्तिगत एवं टीम प्रोजेक्टस का मूल्यांकन भी किया गया।
आयोजन के दूसरे सत्र में 6 जनपदों के विद्यार्थियों द्वारा मुख्य विषय “मानव जाति के कल्याण के लिए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी” पर विज्ञान ड्रामा का मंचन किया गया। जिसमें जनपद हरिद्वार व पौड़ी के द्वारा “सतत विकास के लिए बुनियादी विज्ञान” उपविषय, नैनीताल,बागेश्वर और रुद्रप्रयाग जनपद के द्वारा “टीकों की कहानी” उपविषय तथा चंपावत जनपद के प्रतिभगियों द्वारा “महामारी सामाजिक एवं वैज्ञानिक मुद्दे” उपविषय पर विज्ञान ड्रामा की सुंदर प्रस्तुति दी गयी।


प्रतियोगिता के निर्णायक मंडल मे शामिल एम बी पी जी कॉलेज हल्द्वानी व ग्राफिक एरा भीमताल के प्राध्यापकों, माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाचार्यों व अनुभवी शिक्षकों द्वारा प्रतिभागी बाल वैज्ञानिको के मॉडल एवं प्रोजेक्ट का मूल्यांकन किया गया।

आज के कार्यक्रम में एससीईआरटी के संयुक्त निदेशक प्रदीप रावत, कार्यक्रम संयोजक मुख्य शिक्षा अधिकारी नैनीताल के एस रावत, खंड शिक्षा अधिकारी हल्द्वानी हरेंद्र मिश्र, जिला विज्ञान समन्वयक डॉ दिनेश जोशी, कमला शैल, जितेंद्र सिंह अधिकारी, के एन लोहनी, डॉ.विवेक पांडेय, शंकर बोरा, हेम जोशी, गौरी शंकर, विनोद जोशी,प्रेम कांडपाल ,शैलेश जोशी, प्रदीप जोशी, संगीता जोशी, कन्नू जोशी आदि उपस्थित रहे।

निर्णायक मंडल में मेहुल मानू, अजय शंकर बंगवाल, कौस्तुभ चंद्र जोशी, महेश कुमार,अमित तिवारी, हेमलता अंजू बिष्ट, बंशीधर अंडोला, अमित सचदेवा, ए के सिंह, प्रयाग रावत, चारुदत्त डौंडियाल, नीता पांडे, संजय कुमार, संदीप बुधानी, विनोद जोशी, नवल किशोर लोहनी, नरेंद्र कुमार सिंह,के एम जोशी,आरसी तिवारी, एसके श्रीवास्तव, एसपी मिश्रा, पूनम त्रिपाठी, गोविंद सिंह बोरा, गोपाल जोशी, राजीव शर्मा ने अपना योगदान दिया ।
मंच संचालन अमर सिंह बिष्ट, हेम त्रिपाठी, मीना पलियाल द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें