Thursday, June 13, 2024
No menu items!
HomeUncategorizedहल्द्वानी : डीजीपी ने कुमाऊं के जनपद पुलिस प्रभारी और राजपत्रित अधिकारियों...

हल्द्वानी : डीजीपी ने कुमाऊं के जनपद पुलिस प्रभारी और राजपत्रित अधिकारियों के साथ की अपराध समीक्षा बैठक

हल्द्वानी ::- अशोक कुमार, पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड द्वारा सर्किट हाउस काठगोदाम में कुमाऊं रेंज के जनपद पुलिस प्रभारी व राजपत्रित अधिकारियों के साथ अपराध समीक्षा बैठक आयोजित की गई। गोष्ठी को ऑनलाइन माध्यम से भी जोड़ा गया। व सभी की निर्देश दिए गए।

– इनामी,वांछित अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के अंतर्गत पुलभट्टा, चंपावत तथा डीडीहाट थानों ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। उपरोक्त थानो को ईनाम दिया जाएगा। अल्मोड़ा के रानीखेत थाना और उधमसिंहनगर के ट्रांजिट कैंप को पुलिसिंग में सुधार करने के दिए निर्देश।

– इनामी अपराधियों की कार्ययोजना बनाकर टीमें गठित कर धरपकड़ की जाय।

– वांछित,इनामी अपराधियों की गिरफ्तारी के प्रतिशत में बढ़ोत्तरी की जाय।

– गंभीर अपराध विशेषकर लूट व डकैती वाले इनामी अपराधियों पर इनाम बढ़ाया जाए।

– अपराधियों के संहिता में निहित नियमों,प्रावधानों के अनुरूप इनाम घोषित किया जाय।

– मफरूरों का सत्यापन करवाया जाए। इनाम घोषित की कार्यवाही भी करें।

– एनडीपीएस एक्ट के अंतर्गत अधिक वर्ष की अवधि की सजा वाले अभियोगों से संबंधित अपराधियों की संपत्ति जब्तीकरण की कार्यवाही भी अमल में लाई जाय।

– गैंगस्टर एक्ट में ज्यादा से ज्यादा अभियोग दर्ज करें। संबंधितों के विरुद्ध इनाम घोषित भी किया जाय।

– सक्रिय अपराधियों का चिन्हीकरण कर गिरफ्तारी सुनिश्चित करें।

– नवसृजित थानों में सामुदायिक पुलिसिंग को बढ़ावा दिया जाय। पुलिस की उपस्थिति दर्शाने के लिए स्थानीय लोगों के साथ जनजागरुकता अभियान तथा खेल,मनोरंजक प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया जाय।

– गोष्ठी के दौरान नैनीताल और उधम सिंह नगर जिले के क्षेत्राधिकारियो के अपराध रजिस्टर की समीक्षा भी की गई। रजिस्टर में स्पष्ट अंकन न होने के परिणाम स्वरूप संबंधितों के विरूद्ध कार्रवाई भी की गई।

– सभी क्षेत्राधिकारियों को व्यक्तिगत रुचि लेकर गंभीरता से अपने सर्किल का अपराध रजिस्टर अधावधिक करने और स्पष्ट अंकन करने के निर्देश दिए गए।

-साइबर अपराधों में तत्काल कार्यवाही करें। इन अपराधों में संपत्ति बरामदगी के प्रतिशत में भी बढ़ोत्तरी की जाय।

– गोष्ठी के दौरान गौरा शक्ति योजना के अंतर्गत महिला हेल्पडेस्क में नियुक्त महिला पुलिस कर्मियों को मोबाइल फोन और सिम बांटे गए। जिससे महिला सुरक्षा के तहत पीड़ित महिला की शिकायत और समस्याओं का तत्काल समाधान किया जा सके।


गोष्ठी के दौरान डॉ. नीलेश आनंद भरणे, पुलिस महानिरीक्षक कुमाऊं परिक्षेत्र नैनीताल द्वारा प्रस्तुतीकरण के माध्यम से जनपदों की समीक्षा की गई। समीक्षा बैठक के दौरान


इस दौरान बैठक में पंकज भट्ट एसएसपी नैनीताल, मंजूनाथ टीसी एसएसपी उधम सिंह नगर, लोकेश्वर सिंह, एसपी पिथौरागढ़, हिमांशु वर्मा, एसपी बागेश्वर, प्रदीप राय एसएसपी अल्मोड़ा तथा देवेन्द्र पींचा, एसपी चंपावत समेत जिलों के राजपत्रित अधिकारी मौजूद रहे।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें