Monday, April 22, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड– रातों रात लाखों युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत बने अल्मोड़ा के प्रदीप...

उत्तराखंड– रातों रात लाखों युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत बने अल्मोड़ा के प्रदीप मेहरा की मां का इलाज करवाएंगे पूर्व मंत्री

उत्तराखंड। साफ सच्चा दिल, कर्तव्य निर्वहन , जी तोड़ मेहनत और देश के लिए मर मिटने का जज्बा उत्तराखंड की हवा में ही देश प्रेम का जादू है। यहां के नौजवानों में देशभक्ति कूट कूट कर भरी है। देश की रक्षा करने में सबसे ज़्यादा उत्तराखंड के नौजवान इंडियन आर्मी में भर्ती होते है। जिसको लेकर सोशल मीडिया में एक वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रही है। जिसमें उत्तराखंड के अल्मोड़ा के रहने वाला 19 वर्षीय प्रदीप मेहरा इस समय पूरे देश के युवाओं के लिए प्रेरणा बन चुका है जो नोएडा सेक्टर 16 के मैकडॉनल्ड्स में काम करता है और वह अपनी जॉब के साथ ही सेना में भर्ती होने के लिए जी-जान से मेहनत कर रहा है।

सड़क पर सपनों को पूरा करने के लिए दौड़ लगाते हुए वायरल हुआ था प्रदीप का वीडियो
प्रदीप का वीडियो तब वायरल हुआ जब वह रोजाना की तरह 19 मार्च को भी सेना में भर्ती के लिए दौड़ लगा रहा था। इस दौरान फिल्म निर्माता विनोद कापड़ी को रात करीब 12 बजे नोएडा की सड़क पर प्रदीप पीठ पर बैग टांगे दौड़ लगाते हुए मिला।
जिसकी उन्‍होंने वीडियो बनाई और सोशल मीडिया पर शेयर कर दी। जिसके बाद पूरे देश के लिए प्रदीप प्रेरणा बन गए हैं।

मिलियन से ज्यादा लोग देख चुके हैं वीडियो
प्रदीप मेहरा की यह वीडियो को अब तक 5.1 मिलियन से ज्‍यादा लोग देख चुके हैं और लाखों लोग इसे शेयर कर चुके हैं।

इंडियन आर्मी ज्वाइन करना चाहता है प्रदीप
प्रदीप मेहरा आर्मी ज्वाइन करना चाहता हैं। लेकिन अपनी जॉब के कारण उसे तैयारी का मौका नहीं मिलता इसलिए वह रात में अपनी जॉब खत्म कर इसी तरह से दौड़ की प्रैक्टिस करता हैं। फिल्म के निर्देशक कापड़ी खुद उत्तराखंड पिथौरागढ़ जिले के निवासी हैं और प्रदीप से बातचीत के दौरान जब वह कुमाऊंनी में बात करते हुए घर परिवार के बारे में पूछते हैं तो प्रदीप भी कुमाऊंनी में ही जवाब देते हुए बताता है कि उसकी मां की तबीयत खराब है, उनका इलाज चल रहा है और वह अस्पताल में भर्ती है।

पूर्व मंत्री और मसूरी विधायक गणेश जोशी ने किया प्रदीप के जज्बे को सलाम
प्रदीप की वीडियो वायरल होने के बाद उत्‍तराखंड के पूर्व मंत्री और मसूरी विधायक गणेश जोशी ने प्रदीप के इस जज़्बे को सलाम करते हुए कहा कि मैं भी इसी तरह घर से 17 साल की उम्र में फौज में भर्ती होने निकला था।
और फ़ौज ने ही मुझे जीना सिखाया है। प्रदीप को मेरा आशीर्वाद है कि वह जरूर फ़ौज में भर्ती होगा। उन्‍होंने कहा है कि अगर प्रदीप का सम्पर्क सूत्र मिले तो उसकी मां के इलाज में हर संभव सहयोग किया जाएगा।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें