Monday, May 20, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड के सीएम धामी ने माणा के भोज पत्र को मशहूर बनाने...

उत्तराखंड के सीएम धामी ने माणा के भोज पत्र को मशहूर बनाने के लिए पीएम मोदी के प्रयासों की सराहना की

देहरादून। उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ट्विटर पर कहा कि आज मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चमोली जिले की नीती-माणा घाटी की महिलाओं द्वारा लिखे गए पत्र का उल्लेख किया। यह उनके द्वारा की गई अपील का परिणाम है। देश के पहले गांव माणा में पीएम मोदी ने कहा कि यहां आने वाले श्रद्धालु भोज पत्र से बने उत्पादों के साथ-साथ स्थानीय उत्पादों को भी अच्छे दामों पर खरीद रहे हैं।

आगे बोले कि भोज पत्र देवभूमि उत्तराखंड की प्राचीन विरासत का एक हिस्सा है। हमारी सरकार राज्य की सभी सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित और बढ़ावा देने की दिशा में लगातार काम कर रही है। माणा गांव उत्तराखंड में स्थित है। यह भारत-तिब्बत सीमा के निकट है। गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के 103वें संस्करण में कहा था कि देवभूमि उत्तराखंड की माताओं और बहनों द्वारा उन्हें लिखे गए कुछ पत्र दिल को छू लेने वाले हैं।

पीएम बोले- उत्तराखंड की महिलाओं और बहनों ने अपने बेटे और भाई (पीएम मोदी) को बहुत आशीर्वाद दिया है। उन्होंने लिखा कि उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि भोज पत्र, जो उनकी सांस्कृतिक विरासत रही है, उनकी आजीविका का स्रोत बन सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि ये पत्र मुझे चमोली जिले की नीति-माणा घाटी की महिलाओं ने लिखे हैं। ये वही महिलाएं हैं जिन्होंने पिछले साल अक्टूबर में मुझे भोजपत्र पर एक अनूठी कलाकृति भेंट की थी। मैं अभिभूत हो गया था। यह उपहार मिल रहा है। प्राचीन काल से ही हमारे धर्मग्रंथ और ग्रंथ इन्हीं भोजपत्रों पर संरक्षित हैं। इसी भोजपत्र पर महाभारत भी लिखा गया था। आज देवभूमि की ये महिलाएं इसी भोजपत्र से बेहद खूबसूरत कलाकृतियां और स्मृति चिन्ह बना रही हैं।

इसके अलावा, पीएम ने कहा कि उन्होंने उत्तराखंड के पर्यटकों से स्थानीय उत्पादों की खरीद को प्रोत्साहित करने की अपील की है। माणा गांव की अपनी यात्रा के दौरान, मैंने देवभूमि उत्तराखंड में आने वाले पर्यटकों से बड़ी संख्या में स्थानीय उत्पाद खरीदने की अपील की। इसका व्यापक प्रभाव पड़ा। आज भोज पत्र से बने उत्पाद पर्यटकों द्वारा काफी पसंद किए जाते हैं। इस दौरान उत्तराखंड के सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री के मन की बात कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को समाज के विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय कार्य करने की प्रेरणा मिलती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में राज्य सरकार स्थानीय उत्पादों के साथ-साथ ब्रांडिंग को भी बढ़ावा दे रही है। पैकेजिंग और मार्केटिंग की अच्छी व्यवस्था के साथ-साथ स्थानीय लोगों को विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।

सीएम धामी ने कहा कि पिछले साल अक्टूबर में, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने देश भर से माणा आने वाले श्रद्धालुओं से अपील की थी कि वे अपनी तीर्थयात्रा का कम से कम 5 प्रतिशत स्थानीय उत्पादों पर खर्च करें। इससे लोगों की आजीविका में तेजी से वृद्धि हुई है। स्थानीय स्तर और स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा दिया जा रहा है। गौरतलब है कि जैसे ही स्वतंत्रता दिवस का जश्न नजदीक है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि हमारे शहीद बहादुरों के सम्मान में मेरी माटी मेरा देश नामक एक महान अभियान शुरू किया जाएगा।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें