Monday, May 20, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडबागेश्वर उपचुनाव को लेकर तैयारियां तेज! मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने नोडल ऑफिसर्स...

बागेश्वर उपचुनाव को लेकर तैयारियां तेज! मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने नोडल ऑफिसर्स के साथ की बैठक

बागेश्वर में मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. वी षणमुगम ने आज नोडल अधिकारियों के साथ बैठक की। इसी बीच उन्होंने निर्वाचन कार्यों की जानकारी लेते हुए संबंधित अधिकारियों से अपने दायित्वों का निर्वहन प्राथमिकता से करने की बात कही है। वहीं जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराधा पाल ने ईवीएम व वीवीपैट को लेकर जानकारी दी।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. वी षणमुगम ने नोडल अधिकारियों के साथ बैठक कर उप निर्वाचन कार्यों की जानकारी ली है। इसी बीच उन्होंने कहा निर्वाचन के दौरान सभी अधिकारी भारत निर्वाचन आयोग के अंतर्गत आ जाते हैं इसलिए निर्वाचन कार्यों को प्राथमिकता से करते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन करें। उन्होंने मतदाता सामग्री की जानकारी लेते हुए नोडल अधिकारी सामग्री को सभी प्रकार की सामग्री बस्ते में डालने और सामग्री सूची मिलान कर बस्ते में डालने को कहा है ताकि मतदान टीम भी प्रस्थान से पहले सूची से सामग्री का मिलान कर सके। मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. वी षणमुगम ने मतदाता वाहन संरचरण की विस्तृत जानकारी लेते हुए कहा कि वर्षाकाल चल रहा है इसलिए अधिक से अधिक मतदान टीमों को छोटे वाहनों से बूथ तक भेजा जाए। साथ ही भूस्खलन से प्रभावित सड़क मार्गों को पहले ही चिन्हित कर, वहां पर वैकल्पिक व्यवस्था की जाए। उन्होंने ईवीएम, मतदान कार्मिक व माइक्रो आब्जर्वर रेंडमाईजेशन की जानकारी ली। विधानसभा में कुल मतदान बूथों पर 50 प्रतिशत बूथों पर वेबकास्टिंग होनी है इसके लिए पूर्ण तैयारियां सुनिश्चित कर ली जाएं। साथ ही नेट कनेक्टिविटी का सर्वे करते हुए ड्राइरन भी कर लिया जाए। उन्होंने एसएसटी, एफएसटी, वीवीटी व एलएमटी टीमों को सक्रिय करने के निर्देश देते हुए निर्वाचन व्यय व अवैध शराब संरचरण पर पैनी निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कहा कि पुलिस व एलएमटी (लिकर मॉनिटरिंग टीम) अपने-अपने द्वारा पकड़ी गई मदिरा और उसकी सूचना नोडल अधिकारी और कंट्रोल रूम को देना सुनिश्चित करें। उन्होंने शऱाब की दुकानों और शराब बार स्टॉक का भी नियमित सत्यापन कराने के निर्देश दिए हैं। साथ ही मॉडर्न बूथ एवं सखी बूथ में आयोग के मानकों के अनुसार व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिए। 80 वर्ष से अधिक व दिव्यांग वोटरों के लिए भी उनकी दिव्यांगता का चिन्हिकरण करते हुए मतदान के लिए व्यवस्थाएं करने के आदेश जारी किए हैं। उन्होंने वोट प्रतिशत बढ़ाने के लिए स्वीप के तहत मतदाता जागरूकता कार्यक्रम गांवों तक करने और विगत निर्वाचन में कम वोट प्रतिशत वाले बूथों का चिन्हितकरण कर उनमें विशेष मतदाता जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए। जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराधा पाल ने बताया कि निर्वाचन के लिए पर्याप्त ईवीएम व वीवीपैट उपलब्ध हैं जिनका प्रथम रेंडमाईजेशन किया जा चुका है। इसके साथ ही मतदान कार्मिकों का प्रथम रेंडमाईजेशन कर उन्हें प्रथम प्रशिक्षण भी दे दिया गया है। जबकि द्वितीय प्रशिक्षण 23 व 24 अगस्त को दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि मतदान सामग्री के 250 बैग तैयार किए जा रहे है। साथ ही वेबकास्टिंग के लिए 94 बूथों का चिन्हिकरण कर सर्वे भी कर लिया गया है। पुलिस अधीक्षक अक्षय कोंडे ने शस्त्र जमा, सुरक्षा कर्मियों की मांग आदि की जानकारियां दी।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें