Tuesday, June 25, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडहल्द्वानी : जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने फरियादियों की जनता दरबार लगाकर...

हल्द्वानी : जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने फरियादियों की जनता दरबार लगाकर सुनी जन समस्याएं

हल्द्वानी ::- जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने कैम्प कार्यालय हल्द्वानी में फरियादियों की जनता दरबार लगाकर जन समस्याएं सुनी। जनता दरबार में फरियादियों द्वारा मुख्यतयाः पेयजल, सडक, पेंशन, आपदा,पर्यटन क्षेत्र का जीर्णोद्धार, स्वास्थ्य सम्बन्धी,शिक्षा, आर्थिक सहायता, भूमि पर कब्जा, वर्ग 4 की भूमि को विनियमितीकरण आदि की समस्या से सम्बन्धित 62 शिकायतें दर्ज हुई। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने दूरभाष से वार्ता कर एवं मौके पर उपस्थित संबंधित अधिकारियों को निर्धारित समयावधि में समस्याओं का निस्तारित करते हुए अवगत कराने के भी निर्देश दिए।
डॉ. डीएन भटट हल्द्वानी निवासी ने अवगत कराया कि देवगुरू बृहस्पतिदेव मन्दिर पतलोट व भीड़ापानी के बीच स्थित है इस मन्दिर की पहाडियों से तराई-भाबर का विहंगम दृश्य दिखाई देता है, इस क्षेत्र में तीर्थाटन व ट्रैकिंग की अपार सम्भावनायें है साथ ही उन्होंने कहा राजारानी किले अधौडा के खण्डर ही अवशेष है जिन्हें व्यवस्थित कर हैरिजेट के रूप में पर्यटकों के लिए विकसित कराने का अनुरोध किया साथ ही उन्होंने बताया हरीशताल एवं लोहाखाम ताल का जीर्णोद्धार कर पर्यटको के लिए आकषर्ण का केन्द्र बना सकते है जिससे क्षेत्र के लोगों की आर्थिकी भी मजबूत होगी। जिलाधिकारी ने जिला पर्यटन अधिकारी को सम्बन्धित क्षेत्रों का स्थलीय निरीक्षण कर आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
हल्द्वानी निवासी राजकुमार ने जिलाधिकारी को बताया कि रेलवे फाटक से टनकपुर रोड गौलागेट शमशान घाट तक सडक पर अतिक्रमण के द्वारा लोगो ने अपने घरों के बाहर सिढियां, व कबाड की दुकानें लगाने से आमजनजीवन का चलना मुश्किल हो गया है। जिस पर जिलाधिकारी ने सिटी मजिस्ट्रेट को मौके पर निर्देश दिये शीघ्र ही अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही सुनिश्चित करें। नकायल गौलापार निवासियों ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि नकायल पुल निर्माण हेतु चार माह पूर्व टैंडर होने के उपरान्त कार्य प्रारम्भ नही हुआ है। जिस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता लोनिवि को दूरभाष पर वार्ता कर शीघ्र पुल निर्माण कराने के निर्देश मौके पर दिये। बिन्दुखत्ता पूर्व सैनिकों ने अवगत कराया कि घोडानाला बिन्दुखत्ता में गन्देपानी के नाले में काफी मगरमच्छ निवास कर रहे है उन्होंने कहा कभी भी बडी दुर्घटना हो सकती है। पूर्व सैनिकों ने मगरमच्छों से निजात दिलाने की मांग की। जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी एवं वन विभाग को स्थलीय निरीक्षण कर कार्यवाही सुनिश्चिित करने के निर्देश दिये।
ग्राम ककोड़ प्रधान डीकर सिंह मेवाडी ने अवगत कराया कि प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक योजना के अन्तर्गत स्यूड़ा, कौन्ता,पटरानी ककोड़, हरीशताल ल्वाड़डोबा मोटर 4 सितम्बर 2022 को अतिवृष्टि व दैवीय आपदा के कारण मार्ग क्षतिग्रस्त हो जाने से मार्ग में वाहनों की आवाजाही नही हो पाने से ग्रामीणों को मण्डी तक अपनी उपज पहुचाने मेे काफी कठिनाई हो रही है। उन्होंने मोटर मार्गाें को सुचारू करने के अनुरोध किया। जिस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई को तत्काल क्षतिग्रस्त मोटरमार्गाें की जांच कर स्टीमेट बनाने के निर्देश दिये।
जनता दरबार में अपर जिलाधिकारी अशोक जोशी, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.भागीरथी जोशी,नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय, सिटी मजिस्टेट ऋचा सिंह,उपजिलाधिकारी मनीष कुमार, प्रोबेशन अधिकारी व्योमा जैन, समाज कल्याण अधिकारी दीपांकर घिडियाल, अधिशासी अभियंता लोनिवि अशोक चौधरी, जलसंस्थान केएस बिष्ट के साथ ही सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।


सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें