Saturday, May 18, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडबर्फबारी के बीच केदारनाथ पहुंचे डीजीपी अशोक कुमार! श्रद्धालुओं से की अपील

बर्फबारी के बीच केदारनाथ पहुंचे डीजीपी अशोक कुमार! श्रद्धालुओं से की अपील

उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने केदारनाथ, गौरीकुंड और सोनप्रयाग पहुंचकर यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान डीजीपी ने गौरीकुंड में मार्ग संकरा होने के साथ ही आवाजाही का एकमात्र रास्ता होने पर घोड़ा पड़ाव के दूसरी छोर से बाईपास तैयार करने को लेकर पत्राचार करने के निर्देश दिए। साथ ही यात्रा के सभी पैदल पड़ावों पर तैनात पुलिस बल और यात्रियों की सुविधा व तात्कालिक सहायता को लेकर ऑक्सीजन सिलेंडर रखने को कहा। दरअसल उत्तराखंड पुलिस महानिदेश अशोक कुमार ने आज केदारनाथ यात्रा के महत्वपूर्ण पड़ावों का निरीक्षण किया। उन्होंने यात्रा पड़ावों की पवित्रता बनाए रखने के लिए ऑपरेशन मर्यादा चलाए जाने के साथ ही इस संबंध में होर्डिंग्स, फ्लैक्स, बैनर लगाए जाने के निर्देश दिए। गौरीकुंड में पुलिस चेक पोस्ट पर श्रद्धालुओं के आवागमन को बनाए रखने के लिए लगातार अनाउंसमेंट की ड्यूटी कर रहे होमगार्ड जवान को पारितोषिक भी दिया।

वहीं डीजीपी अशोक कुमार ने केदारनाथ धाम पैदल जा रहे यात्रियों से बातचीत भी की। यात्रियों ने पालकी बुकिंग काउंटर पर भीड़ के नियंत्रण करने का अनुरोध किया। उन्होंने गौरीकुंड में पुलिस व्यवस्थाओं को और ज्यादा दुरुस्त किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने यात्रा मार्ग पर जंगलचट्टी और भीमबली में एसडीआरएफ की नई पोस्ट खोले जाने के निर्देश देने के साथ ही यात्रियों को यात्रा पड़ावों पर रुकने के लिए रेन शेड बनाने की आवश्यकता बताई।
डीजीपी अशोक कुमार ने तिलवाड़ा में चयनित भूमि पर एसडीआरएफ का स्थायी निर्माण करने को कहा। साथ ही जिला स्तर पर प्रभावी यातायात व्यवस्था बनाए जाने के लिए सभी यातायात प्रभारियों को वायरलेस सेट मुहैया कराने के निर्देश दिए। रुद्रप्रयाग पुलिस अधीक्षक विशाखा भदाणे ने बताया कि रिपोर्टिंग पुलिस चौकी चोपता (तुंगनाथ) की भूमि पुलिस विभाग के नाम हो चुकी है। वहीं डीजीपी ने केदारनाथ में यात्रियों से यात्रा व्यवस्थाएं भी जानी। डीजीपी अशोक कुमार ने केदारनाथ में बर्फबारी के बीच से एक वीडियो जारी किया है। वीडियो में उन्होंने कहा कि केदारनाथ धाम में मौसम फिर से खराब हो गया है और बहुत भारी बफबारी हो रही है। श्रद्धालुओं की सुरक्षा के दृष्टिगत उन्हें ऋषिकेश और श्रीनगर में रोक दिया गया है। सोनप्रयाग और गौरीकुंड में मौजूद यात्रियों से भी अपील की कि अभी केदारनाथ धाम की ओर चढ़ाई न करें। सभी श्रद्धालुओं से अनुरोध है कि मौसम साफ होने तक अपनी यात्रा को रोक लें। उनका कहना है कि मौसम के मद्देनजर संभल कर और मौसम के पूर्वानुमान के अनुसार ही अपनी यात्रा शुरू करें।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें