Saturday, May 18, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडभीमताल– झील के शहर में बिन पानी सूखे नगरवासियों के हलक

भीमताल– झील के शहर में बिन पानी सूखे नगरवासियों के हलक

भीमताल में गर्मियां आते ही नगर के 9 वार्डों में पीने के पानी की भारी किल्लत हमेशा बनी रहती है, नगर वासियों को जल संस्थान का उपभोक्ता होने के बावजूद भी पीने के पानी को दूर दराज से ढोना पड़ता है जो जल संस्थान की कार्य प्रणाली पर बड़ा सवाल उठाता है, वार्ड 1,6,7,8 और 9 बोरिंग पंप खराब बार-बार उपकरणों में कमी, पाईप लाइनों के ठीक न होने की शिकायत जनता में हमेशा बनी रहती है, वार्ड न.3 पूर्व में बनी योजना के अनुसार पेयजल वितरण की व्यवस्था का इंतजार कर रहा है, हफ्ते में 2 दिन पानी देने से लोगों में विभाग के प्रति रोष बना है साथ ही जल जीवन मिशन के अंतर्गत चिन्हित क्षेत्रों में कार्य अधर पर लटका हुआ है, वार्ड 2 और 5 में भी बोरिंग खराब एवं उपकरणों की कमी और सांगुड़ी गांव, साकेत कालोनी में जनता जल संस्थान के पाईप लीकेज एवं पानी में प्रेशर कम होने से परेशान रहती है जिसके कारण महिलाओं को दूर दराज से पानी लाना पड़ता है, इसके साथ ही वार्ड 4 के जल संस्थान के उपभोक्ताओं के साथ भी हमेशा पानी की किल्लत बनी रहती है, शिलोटी, बोहरा गाँव, थपलिया मेहरा गाँव, शाह खोला के लोग जल वितरण प्रणाली से परेशान है जबकि नगर में प्रकृति की देन दो बड़ी झीलें एवं चारों तरफ दर्जनों जल स्रोत है, लेकिन विभाग की अव्यवस्था के कारणवश नगर वासियों को पीने के पानी को जूझना पड़ता है। शहर की 20000 आबादी वाले लोगों की मुख्य समस्या को देखते हुए नगर के सामाजिक कार्यकर्ता पूरन चंद्र बृजवासी ने जल संस्थान महा प्रबंधक एवं विभागीय अधिकारियों से शहर के सभी वार्डो की पेयजल दिक्कत को दूर कर व्यवस्था में सुधार करने की मांग की है साथ ही उन्होंने नगर के वार्डो में रुके हुए विभागीय कार्यों में तेजी लाने को कहां है ताकि नगर पंचायत भीमताल की आम जनता को भरपूर पेयजल आपूर्ति हो सकें और उन्हें दिक्कतों का सामना न करना पड़े।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें