Monday, April 22, 2024
No menu items!
Homeअपराधपुण्यानंद गिरि की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हरिद्वार में जोरदार प्रदर्शन!...

पुण्यानंद गिरि की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हरिद्वार में जोरदार प्रदर्शन! ब्राह्मणों के खिलाफ अपशब्द कहने का है आरोप

धर्मनगरी हरिद्वार पुण्यानंद नामक तथाकथित संत द्वारा कथा के दौरान ब्राह्मणों के लिए अपशब्द कहने का मामला ठंडा नहीं हो रहा है। ब्राह्मण समाज में पुण्यानंद के खिलाफ रोष बढ़ता जा रहा है। हरिद्वार के ब्राह्मणों ने पुण्यानंद का आश्रम घेर लिया था। तब पुण्यानंद के आश्रम में मौजूद नहीं रहने से प्रदर्शनकारी ब्राह्मण लौट गए थे।

एक बार फिर बड़ी संख्या में ब्राह्मण समाज के लोगों द्वारा थाना कनखल क्षेत्र के चौक बाजार में जोरदार प्रदर्शन किया गया। जिसके बाद सभी लोगों द्वारा थाने पर भी प्रदर्शन किया गया। इस दौरान प्रदर्शन करने वालों में शहर विधायक मदन कौशिक, श्रीगंगा सभा के अध्यक्ष नितिन गौतम, महामंत्री तन्मय वशिष्ठ एवं सैकड़ों की तादाद में ब्राह्मण समाज के लोग मौजूद रहे। इस मौके पर ब्राह्मण समाज के सभी लोगों ने पुलिस से मांग की कि पुण्यानंद गिरि ने जिस तरह से पूरे ब्राह्मण समाज के लिए अपशब्द कहे हैं उसके लिए उसको सार्वजनिक तौर पर पूरे समाज से माफी मांगनी चाहिए। साथ ही उन्होंने पुलिस से मांग की कि पुण्यानंद गिरि के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। अगर पुलिस पुण्यानंद की गिरफ्तारी नहीं करती है तो ब्राह्मण समाज द्वारा और उग्र आंदोलन किया जाएगा। पुण्यानंद गिरि द्वारा ब्राह्मणों को अपशब्द कहे जाने पर आक्रोषित ब्राह्मण समाज के लोगों द्वारा कनखल चौक बाजार पर एकत्रित होकर विरोध प्रदर्शन करते हुए कनखल थाने का घेराव किया गया। एक दिन पूर्व पुण्यानंद गिरि के खिलाफ दी गई तहरीर पर कार्रवाई न होने पर आक्रोश व्यक्त करते हुए पुलिस से तुरंत ही पुण्यानंद की गिरफ्तारी की मांग की गई। इस मौके पर बड़ी संख्या में ब्राह्मण समाज के लोग इकट्ठा हुए. ब्राह्मण समाज के लोगो में विशेष तौर पर हरिद्वार नगर विधायक मदन कौशिक, श्री गंगा सभा अध्यक्ष नितिन गौतम, महामंत्री तन्मय वशिष्ठ, स्वागत मंत्री डॉ सिद्धार्थ चक्रपाणि समेत सैकड़ों ब्राह्मण पुजारी एवं पंडित कथा वाचक एवं कर्मान्तरि उपस्थित रहे।

आपको बात दे पुण्यानंद गिरि नाम के तथाकथित संत ने बुधवार को हरिद्वार स्थित अपने आश्रम में कथा की थी। आरोप है कि इस कथा के दौरान पुण्यानंद गिरि की जुबान फिसल गई. पुण्यानंद गिरि पर कथा के दौरान ब्राह्मणों के खिलाफ अपशब्द कहने का आरोप है। इसके खिलाफ ब्राह्मणों ने प्रदर्शन करते हुए कनखल पुलिस को तहरीर दी थी। स्वामी पुण्यानंद गिरि एक तथाकथित संत हैं. बताया जाता है कि पुण्यानंद गिरि नेपाल मूल के हैं. इन्हें काफी विवादास्पद व्यक्ति बताया जाता है। इसी कारण निरंजनी अखाड़े ने पुण्यानंद गिरि को अपने अखाड़े से बर्खास्त कर दिया था। पुण्यानंद गिरि कथा के माध्यम से धर्म का प्रचार करने का दावा किया करते हैं. हालांकि जिस तरह से पुण्यानंद गिरि ने ब्राह्मणों के खिलाफ टिप्पणी की है उससे उनके धर्म प्रचार के दावे पर संदेह पैदा होता है। फिलहाल हरिद्वार के बैरागी कैंप में पुण्यानंद गिरि का आश्रम बना स्थित है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें