Tuesday, June 25, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडकोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों की सीएम धामी मामा बन व...

कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों की सीएम धामी मामा बन व मंत्री रेखा आर्य बुआ बन करेंगे हरसंभव मदद

कोरोना काल के दौरान अनाथ हुए बच्चों के लिए वात्सल्य तो बेटियां को महालक्ष्मी योजना का कवच प्रदान किया गया। बता दें कि राज्य सरकार ने कोरोना काल मे अनाथ हुए बच्चों की सुरक्षा, देखभाल व उनके पुनर्वास और उनके अधिकारों के संरक्षण के लिए मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना का शुभारंभ किया गया। जिसके अंतर्गत अब तक तीन हजार से अधिक बच्चो को योजना का लाभ मिल गया है। सीएम धामी ने स्वयं को मामा और मंत्री रेखा आर्य ने बुआ बताकर कोरोना काल मे अनाथ हुए बच्चों की हरसंभव मदद करने का वादा किया है।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के अंतर्गत 1 मार्च 2020 से 31 मार्च 2022 के बीच कोविड-19 महामारी एवं अन्य बीमारियों से माता, पिता, संरक्षक की मृत्यु के कारण जन्म से 21 वर्ष तक के प्रभावित बच्चों की देखभाल पुनर्वास चल-अचल संपत्ति एवं उत्तराधिकारों एवं विधिक अधिकारों के संरक्षण के लिए मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना शुरू की गई। योजना के तहत ऐसे बच्चों को हर महीने तीन हजार रुपये दिए जा रहे हैं। साथ ही निशुल्क शिक्षा की व्यवस्था की गई है। सरकारी नौकरी में भी ऐसे बच्चों को पांच प्रतिशत का आरक्षण दिया जाएगा। वहीं सरकार ने बेटियों के लिए महालक्ष्मी सुरक्षा कवच प्रदान किया गया है। जिसके अंतर्गत सभी महिलाओं को एक महालक्ष्मी किट दी जा रही है। जिसमे प्रसव के दौरान का जरूरी सामान होता है। 

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें