Thursday, June 13, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडनैनीताल: आपदा की स्थिति में त्वरित कार्यवाही के लिए जिले के युवाओं...

नैनीताल: आपदा की स्थिति में त्वरित कार्यवाही के लिए जिले के युवाओं को दिया जा रहा हैं 12 दिवसीय प्रशिक्षण – डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल

नैनीताल– आगामी मानसून अवधि में संभावित आपदाओं के दृष्टिगत जनपद की तैयारी को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में वीसी सम्पन्न हुई। वीडियो कांफ्रेंसिंग में कुमाऊं आयुक्त दीपक रावत ने कहा कि किसी भी प्रकार की आपदा जैसी घटनाओं के न्यूनीकरण के लिए हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है। साथ ही आगामी मानसून के दृष्टिगत निर्माणदायी संस्थाओ द्वारा सभी नदी नालों में सफाई अभियान चलाया जा रहा है जिससे पानी का जमाव न हो व बीमारी के संक्रमण से बचा जा सके।
जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने बताया कि जनपद के संवेदनशील, भूस्खलन क्षेत्र को राजस्व व निर्माणदायी संस्थाओं के साथ मिलकर चिन्हित कर लिए गए है। जनपद में किसी भी प्रकार की आपदा होने पर त्वरित कार्यवाही के लिए जनपद के युवाओं को 12 दिवसीय प्रशिक्षण दिया जा रहा है जिससे त्वरित स्थल पर पहुँचकर राहत व बचाव कार्य किया जा सके। उन्होंने बताया कि किसी भी स्थल पर प्रथम रेस्पांडर स्थानीय /ग्रामीण लोग ही होते है इसी के मद्देनजर विभिन्न क्षेत्रों के लोगो को प्रशिक्षित किया जा रहा है ।
जिलाधिकारी ने बताया कि कुमाऊं की सभी गतिविधियों का संचालन जनपद से किया जाता है। इसी के दृष्टिगत एसडीआरएफ की संख्या बढ़ाए जाने की आवश्यकता है जिससे कुमाऊं के अन्य जिलों में भी आपदा जैसी घटना होने पर त्वरित राहत एवं बचाव का कार्य किया जा सके। जनपद में आपदा राहत कार्य हेतु विभिन्न निर्माणदायी संस्था के आगणक प्राप्त हुए थे जिन्हें बजट प्राप्ति की कार्यवाही के लिए शासन को प्रेषित कर दिए है।
इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट, सीडीओ डॉ. संदीप तिवारी, डीएफओ टी आर बीजूलाल, अपर जिलाधिकारी अशोक जोशी, सीओ संजीव कुमार, एआरटीओ विमल पांडेय, डी एस ओ मनोज वर्मन, डीडीएमो शैलेश कुमार सहित अन्य लोनिवि जल, विद्युत के अधिकारी उपस्थित थे।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें