Wednesday, February 21, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड: पैर फिसलने से उफनते नदी के बीच पत्थरों में फंसा युवक!...

उत्तराखंड: पैर फिसलने से उफनते नदी के बीच पत्थरों में फंसा युवक! एसडीआरएफ ने किया सकुशल रेस्क्यू

बरसात का सीजन भले ही थम गया हो, लेकिन नदियों का जलस्तर कम नहीं हुआ है। अभी भी नदियों का जलस्तर काफी तेज है। वहीं चमोली के थाना गोविंद घाट क्षेत्र अंतर्गत कस्बा पिनाला घाट के निकट एक युवक अलकनंदा नदी में नहाने जा रहा था तभी उसका पैर फिसल गया और वह नदी की तेज धारा में बह गया। सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष गोविन्दघाट पुलिस और एसडीआरएफ टीम राहत बचाव के लिए मौके पर पहुंची। एसडीआरएफ टीम ने तत्काल रेस्क्यू कर नदी के बीच पत्थर पर फंसे युवक को रेस्क्यू किया।

गौर हो कि चमोली के थाना गोविंद घाट क्षेत्र अंतर्गत कस्बा पिनाला घाट के पास एक युवक अलकनंदा नदी की तेज धारा में बह गया। लेकिन युवक की किस्मत अच्छी थी कि वह नदी के बीच पत्थर में फंस गया. लोगों ने जब युवक को फंसा देखा तो तत्काल सूचना पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद मौके पर पुलिस और एसडीआरएफ टीम पहुंची और युवक को रेस्क्यू कर सकुशल बाहर निकाला। पुलिस ने बताया कि युवक का नाम अजय थापा पुत्र शेरसिंह, निवासी पाण्डुकेशर चमोली है. जिसे सकुशल नदी से रेस्क्यू किया गया। पुलिस व एसडीआरएफ की तत्परता से युवक की जान बच गई। जबकि समय-समय पर पुलिस के द्वारा नदी में नहाने जाने वाले लोगों को चेतावनी भी दी जाती है। इसके बावजूद लोग पुलिस की अपील की अनदेखी करते नजर आते हैं और अपनी जान को सांसत में डालते से बाज नहीं आ रहे हैं। भले ही मानसून की विदाई हो गई हो लेकिन नदियों का जलस्तर कम नहीं हुआ है। हल्की की चूक जान पर भारी पड़ सकती है। ऐसे में लोगों को पुलिस की अपील को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें