Thursday, February 22, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंड38वें राष्ट्रीय खेलों का फ्लैग सीएम धामी को सौंपेंगी खेल मंत्री रेखा...

38वें राष्ट्रीय खेलों का फ्लैग सीएम धामी को सौंपेंगी खेल मंत्री रेखा आर्य! नेशनल गेम्स की तैयारियों में जुटा उत्तराखंड

गोवा में 37वें नेशनल गेम्स के समापन के बाद अब 38वें राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी करने का मौका उत्तराखंड को मिला है। उत्तराखंड ने इसके लिए अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। उत्तराखंड की खेल मंत्री रेखा को बीती 9 नवंबर को राष्ट्रीय खेलों का झंडा मिला था जिसे वो आधिकारिक रूप से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को सौंपेगीं।

गोवा में 37वें नेशनल गेम्स के समापन के बाद 38वें राष्ट्रीय खेलों का झंडा उत्तराखंड की खेल मंत्री रेखा को मिल गया था। अब वो आधिकारिक रूप से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को ये फ्लैग सौंपेंगी। गोवा से लौटने के बाद उत्तराखंड की खेल मंत्री रेखा आर्य ने ये जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अगले साल उत्तराखंड में होने जा रहे नेशनल गेम्स हर एक प्रदेशवासी के लिए प्रतिष्ठा का सवाल हैं। खेल मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि 9 नवंबर को उत्तराखंड राज्य स्थापना दिवस के दिन उन्हें 38वें राष्ट्रीय खेलों का फ्लैग गोवा में मिला था। ये उनके लिए एक चुनौती और मौका दोनों है। साथ ही उन्होंने कहा कि 38वें राष्ट्रीय खेलों का आयोजन उत्तराखंड में होना उनके लिए बड़े गर्व की बात है। खेल मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि 38वें राष्ट्रीय खेलों का सफल आयोजन पूरे उत्तराखंड की सामूहिक जिम्मेदारी है। खेल मंत्री रेखा आर्य ने दावा किया है कि गोवा की तरह उत्तराखंड में भी 38वें राष्ट्रीय खेलों का भव्य आयोजन किया जाएगा। उत्तराखंड सरकार अगले साल होने वाले 38वें राष्ट्रीय खेलों को लेकर पहले से ही तैयार है। खुद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने 38वें राष्ट्रीय खेलों को लेकर हाई पावर कमेटी का गठन किया है। वहीं अगले साल उत्तराखंड में होने वाले 38वें राष्ट्रीय खेल को लेकर उत्तराखंड खेल निदेशक जितेंद्र सोनकर ने कहा कि यह प्रदेश के लिए बड़ी उपलब्धि है। खेल विभाग ने पिछले कुछ सालों में नेशनल गेम्स के तमाम मानकों और उच्च गुणवत्ता युक्त इंफ्रास्ट्रक्चर को बिल्ड अप किया गया है। साथ ही उन्होंने बताया कि अवस्थापना विकास के स्तर की जो चुनौती थी उसको कहीं ना कहीं खेल विभाग ने बखूबी पूरा कर लिया है। 38वें राष्ट्रीय खेलों में देशभर से करीब 10 हजार खिलाड़ियों और 5 हजार अधिकारियों के साथ 15 हजार लोगों के रुकने का इंतजाम किया जा रहा है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें