Monday, May 20, 2024
No menu items!
Homeउत्तराखंडदेहरादून में पारा चढ़ने के साथ ही गहराने लगा पेयजल संकट! जल...

देहरादून में पारा चढ़ने के साथ ही गहराने लगा पेयजल संकट! जल संस्थान ने चिन्हित किए क्षेत्र

प्रदेश में गर्मी का प्रकोप लगातार जारी है। जिससे दून शहर में पिछले कई दिनों से पेयजल की किल्लत है। जल संस्थान के कंट्रोल रूम में रोजाना 23 से 30 शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। जिससे जल संस्थान ने हर साल देहरादून में पेयजल संकट से जूझने वाली करीब 120 ऐसे मोहल्ले और 15 बस्तियों को चिन्हित किंया हैं जहां पर अक्सर पानी का संकट पैदा होता है। इन चिह्नित क्षेत्रों के लिए विभाग ने वैकल्पिक प्लान बनाया है। प्लान के अनुसार जल संस्थान न केवल इन क्षेत्रों में टैंकरों से पानी की सप्लाई करेगा बल्कि जिन ट्यूबवेल से इन क्षेत्रों में पानी की सप्लाई होती है वहां जनरेटरों की व्यवस्था भी की जाएगी।

बता दें कि मानकों के हिसाब से शहरी क्षेत्र में 135 लीटर प्रति व्यक्ति और ग्रामीण क्षेत्र में 70 लीटर प्रति व्यक्ति पानी की आवश्यकता होती है। इसके विपरीत हकीकत यह है कि शहरी क्षेत्र में 100 लीटर और ग्रामीण क्षेत्रों में 50 लीटर पानी ही लोगों को उपलब्ध हो रहा है। वर्तमान में 283 ट्यूबवेल के साथ-साथ तीन नदी-झरने के स्रोत हैं। दून में अधिकांश पेयजल आपूर्ति ट्यूबवेल से ही होती है, जिससे गर्मी बढ़ते ही भूजल स्तर नीचे चला जाता है और ट्यूबवेल की क्षमता घटने लगती है। उत्तर जोन में जोहड़ी,नाईवाला,सुमन नगर,साकेत,आर्यनगर, डीएल रोड,कोठार गांव,बगरिया गांव,मक्कावाला,नया गांव,अनारवाला,लोहारवाला,सिरमौर,किशननगर,कौलागढ़, राम विहार,तपोवन,नालापानी रोड,शांति विहार,ननूरखेड़ा, शिवलोक,राजीव कालोनी,सिद्धार्थ विहार,डांडानूरी,जागृति एन्क्लेव,आंबेडकर मार्ग,दीनदयाल उपाध्याय बस्ती,बिंदाल बस्ती,आमवाला और कारगिल बस्ती को चिन्हित किया गया है।

दक्षिण जोन में नेशविला रोड,चुक्खूवाला,डोभालवाला,इंदिरा कॉलोनी,विजय कॉलोनी, चंदरलोक कॉलोनी, टैगौर विला, लक्खीबाग,भंडारी बाग,रामनगर,मुस्लिम कॉलोनी,नारायण विहार,आशीर्वाद एन्क्लेव,पथरी बाग,कांवली रोड,लक्ष्मण चौक, पूर्वी पटेल नगर,पश्चिमी पटेलनगर,संजय कॉलोनी,लूनिया मोहल्ला,घोसी गली,चकराता रोड,पूरण बस्ती,चंदर रोड,नेमी रोड,माता मंदिर रोड,इंदर रोड,प्रीतम रोड,बलबीर रोड नई बस्ती,डीएल रोड,ओल्ड सर्वे रोड,अंबेडकर कॉलोनी, हरिद्वार रोड और गंगा विहार को चिन्हित किया गया है। पित्थूवाला जोन में सेवलाकलां,पित्थूवाला,आस्था एन्क्लेव,नई बस्ती,आशारोड़ी,सोसायटी एरिया,विजलेंस ऑफिस,इंदिरापुरी फार्म,विष्णुपुरम,अमर भारती,चोयला,जाली गांव,सत्यनारायण मोहल्ला,धारावाली,मोहित नगर,व्योमप्रस्थ,एमडीडीए इंदिरापुरम,गांधी ग्राम,मिलन विहार,अनुपम विहार,साईंलोक, परम विहार,कारगी ग्रांट,चाणक्यपुरी और त्यागी ढाल को जल संस्थान ने चिन्हित किया है। वहीं, रायपुर जोन में शास्त्री नगर,चकशाह नगर,अपर सारथी विहार, लोअर सारथी विहार,बैंक कॉलोनी,बदरीश कॉलोनी,ओम विहार,सरस्वती विहार,राझांवाला,कृष्ण विहार,इंद्रप्रस्थ, गंगोत्री विहार,अलकनंदा एन्क्लेव,आदर्श कॉलोनी,देवाशीष एन्क्लेव, शिवालिक व्यू,शिव शक्ति कॉलोनी,शिव नारायण विहार, हरिपुर,वसंत एन्क्लेव,गोरखा बस्ती,संगम विहार,दिल्ली फार्म,मियांवाला,नवादा सैनिक कॉलोनी,टीचर्स कॉलोनी और शमशेरगढ़ को चिन्हित किया गया है। जल संस्थान पानी की समस्या से निपटने के लिए तैयार: जल संस्थान की मुख्य महाप्रबंधक नीलिमा गर्ग ने बताया कि इन क्षेत्रों की समस्या के समाधान के लिए आठ विभागीय टैंकरों सहित 30 किराये के टैंकरों और बिजली आपूर्ति बाधित होने पर नलकूप के संचालन के लिए 10 जेनरेटर की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि पेयजल समस्याओं के संबंध में जिला जल एवं स्वच्छता मिशन के शिकायत कंट्रोल रूम में इन नंबरों पर 8979010101,9412038572, 9456375256,9927057963,9557356265 पर प्रत्येक कार्य दिवस में सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक सूचना दे सकते हैं।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -

ताजा खबरें